X
    Categories: DPHindiHindi Mast shayriImagesLatestsharedshayriStatusWhatsapp

100+ Latest whatsapp shared Hindi shayri, Hindi DP Images and Status

[ad_1]

Here we collected best and latest whatsapp hindi shayri, DP images and status for you. If you are looking for whatsapp status in hindi , new hindi quotes, हिन्दी सटेट्स which We provide all our friends a wide collection of hindi status,wallpaper, love shayari, hindi whatsapp status and many more. Just click on the share button and share it with your friends. We provide you the best hindi quotes.

Today’s best Hindi Shayri Status

  • पत्थर की दुनिया जज़्बात नही समझती
    दिल में क्या है वो बात नही समझती
    तन्हा तो चाँद भी सितारो के बीच में है
    पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती
  • “शिकवा करने गये थे और ..
    .
    इबाबत सी हो गयी..
    .
    तुझे भुलने की जिद थी..
    .
    मगर तेरी आदत हो गयी…”

For more Hindi Shayri, Status, Toughts are below after Gallery Must See:

Just  click and download image from below Gallery. We put all images in gallery to easy to download and go through all Images.

Join our latest whatsapp group for hindi Sharyi

Here Latest Hindi Shayri, Hindi Whatsapp DP Images and Status

  • खामोशियां कर दें बयां तो अलग बात है..
    कुछ दर्द ऐसे भी हैं जो लफ्जों में उतारे नहीं जाते..
  • जिसकी रूह में बस गया हो कोई…..
    उसकी नज़दीकियों के मायने ना पूछिये…
  • अहसासों की नमी बेहद जरूरी है
    हर रिश्ते में..
    वरना रेत भी सुखी हो तो हांथो से
    फिसल जाती है..
  • किसी को अपना बनाओ
    तो “दिल” से
    जुबान” से नहीं
    और किसी पर गुस्सा करो*
    तो जुबान से …..
    *“दिल” से नही
  • ये नज़र नज़र की बात है ,
    कि किसे क्या तलाश है …
  • बेहद खास होता है वो रिश्ता
    जो अनकहा होता है।।
  • जब आप किसी से भी गहरा संवाद करते है तो जाहिर सी बात है वो आपके जेहन में बेशुमार शामिल हो जाता है.. जरूरी नहीं हर बार वो प्यार ही हो..
  • जिस्म के रिश्तों के भी दायरे हैं सिमित।
    रूह के रिश्तों में दायरे नहीं होते।।
  • बिता वक़्त कैसा भी हो अच्छा या बुरा
    कुछ यादें दे ही जाता है
  • कुछ लोगों के साथ सिर्फ वक्त बिताने से ही,
    सबकुछ ठीक हो जाता है…
  • साझेदारी करो तो ….
    किसी के दर्द की करो….
    क्योंकि ख़ुशियों के ….
    दावेदार तो बहुत हैं ….
  • सजा देनी हमे भी आती है ओ बेखबर…
    पर तू तकलीफ से गुज़रे, ये हमे मंजूर नहीं…
  • लोग रिश्ता तो रखना चाहते है
    पर निभाना नही …..
  • अजीब दस्तूर है ज़माने का…..
    अच्छी यादें पेनड्राइव में
    और,,,,
    बुरी यादें दिल में रखते हैं…..
  • इंसान इस एक कारण से अकेला हो जाता है
    अपनो को छोडने की सलाह गैरों से लेता है
  • तुम कभी यूँ भी किया करो- छोड़ मेरी
    शायरी मेरा दिल भी पढ़ लिया करो
  • धड़कनों में बसते हैं कुछ लोग,
    जबां पे नाम लाना ज़िनका जरूरी नही होता !!
  • धडकनों की यही तो ख़ास बात हैं. . .
    भरे बाज़ार में भी किसी एक को सुनाई देती हैं. . . ?
  • दलीलें ‘झूठ’ की ही होती है…
    ‘सच’ खुद अपना वकील होता है…!”
  • तुझे याद कर लूँ तो मिल जाता है सुकून दिल को,
    मेरे दिल का इलाज़ भी कितना सस्ता है !
  • उदासियों की वजह तो बहुत है जिंदगी में,
    पर बेवजह खुश रहने का मजा ही कुछ और है…

  • जो मिलते हैं…
    वो बिछड़ते भी हैं जनाब…हम नादान थे…एक शाम की मुलाकात को ज़िन्दगी समझ बैठे…
  • *?Hum तो वो है जो? प्यार bhi करते है और ?गुस्सा bhi करते है but तेरे बिना ?? रेह भी नहीं सकते ?जो भी करते है तेरे लिये करते है।*????
  • मुलाक़ात उस से भी करना फ़ुरसत में किसी दिन..
    देख कर आईने में जिसे हर रोज़ गुज़र जाते हो..!!
  • कभी तो शोर भी रहता है बेअसर.. कभी ख़ामोशी चीख़ती बहुत है..!!
  • एक नासमझ सी उम्र गुजार दी समझदार होने में !!
  • आज अल्फ़ाज़ो के भी मायने नही समझतेजो कभी ख़ामोशी पढ लिया करते थे..
  • बहुत मिलेंगे हसीन चेहरे
    इस दुनिया के बाजार में,
    लेकिन, वो मुक़द्दर से मिलता है
    जिसका ‘दिल’ खूबसूरत होता है…….
  • ज़िन्दगी उस रेस के घोड़े की तरह हो गयी है जिसकी आँखों के दोनों तरफ पट्टी है
    करना क्या है खबर नहीं पर दौड़ रहे है क्योंकि भीड़ का हिस्सा है
  • दलीलें ‘झूठ’ की ही होती है…
    ‘सच’ खुद अपना वकील होता है…!”
  • भूलना सीखिए…
    एक दिन दुनिया भी यही करने वाली है
  • तुझसे पीछा छुटाने की सोच रहा हूँ,
    बियाबाँ में ठिकाने की सोच रहा हूँ।
  • कभी सिर तो कभी पाँव अपने ढंकता हूँ,
    छोटी सी चादर से उम्मीदें बड़ी रखता हूँ।
  • अज़ीज़ इतना ही रक्खो कि जी सँभल जाए
    अब इस क़दर भी न चाहो कि दम निकल जाए
  • ना हम रहे दिल लगाने के क़ाबिल ना दिल रहा घाम उठाने के क़ाबिल लगा उसकी यादों के जो ज़ख़्म दिल पर ना छोड़ा उस ने मुस्कुराने के क़ाबिल.
    143?
  • सुनो……!! 🙁
    आँसू बहा लेने से
    अगर उसकी यादें बह जाती ,
    तो कसमसे में एक दिन जी भरके रो लेती..!
  • “शिकवा करने गये थे और ..
    .
    इबाबत सी हो गयी..
    .
    तुझे भुलने की जिद थी..
    .
    मगर तेरी आदत हो गयी…”
  • मैंने जिन्दगी सेपूछा
    सबको इतना दर्द क्यों देतीहो
    जिन्दगी ने हंसकरजवाबदिया
    मैं तो सबको ख़ुशीही देतीहुँ
    पर एक की ख़ुशी दुसरे का दर्द बन जातीहै
  • लोग कहते है की दुःख बुरा होता है ..
    जब आता है तब रुला देता है ..
    लेकिन दुःख जब भी आता है…
    अपनों की पहचान करा देता है…
  • काश,
    एक लफ्ज़ नहीं है बस।
    एक उम्मीद है,
    या,
    इनकार से बचने का ज़रिया।
  • न मोहब्बत संभाली गई,न नफरतें पाली गईं बङा अफसोस है
    उस जिंदगी काजो तेरे पीछे खाली गई
  • प्यार की लड़ाई में जिसके दिल में……
    अधिक प्यार रहता है वो हार जाता है…
  • मोहब्बत तो आज भी उतनी ही है तुमसे,
    ये बात और है की उम्मीद कुछ भी नहीं !!
    तुम नाराज हो जाओ, रूठो या खफा हो जाओ,
    पर बात इतनी भी ना बिगाड़ो की जुदा हो जाओ !!
  • Death is not the greatest loss in life. The greatest loss is what dies inside us while we r alive.
  • नियम कुदरत का बहुत ही ख़ास है
    दरख़्त पे हवा है या दरख़्त हवा के पास है
    गुरुर ना हो अपनी शख्शियत का
    बिन हवा दरख़्त नही रिश्ता दोनो का ख़ास है
  • ज़िन्दगी में…….!
    हर कदम रहूँगा साथ
    दूर रहकर भी रहूँगा पास
    अगर तमन्ना हो आज़माने की मुझे
    याद करना जब कोई ना हो तुम्हारे पास..
  • रिश्ते खराब होने की एक
    वजह ये भी है
    कि लोग अक्सर
    टूटना पसंद करते है
    पर झुकना नहीं
  • बिना इम्तिहान से
    गुज़रे कोई
    भी रिश्ता
    सफल नही होता !!
  • गुस्सा होने का हक्क सिर्फ उनको होता है,
    जो दिल के बहुत नजदीक हुआ करते है…..
  • “तेरी बेरूखी का अंजाम एक दिन यही होगा…,आखिर भूला ही देंगे…तुझे याद करते करते।”
  • नहीं” और “हाँ” दो छोटे शब्द है!!
    इससे जिंदगी मे हम बहुत सी चीजे खो देते है
    “नहीं” जल्दबाजी मे बोलने पर,
    और
    “हाँ” देर से बोलने पर।!!!
  • साथ भले ही मंज़िल तक ना था…
    लेकिन..
    बहुत खूबसूरत थे वो रास्ते…
    जहाँ तुम साथ चलते थे…
  • एक शायरी मेरे आलसी ग्रुप मेम्बर्स के
    लिए….
    अर्ज़ किया है….
    यु ना किसीके दिलके साथ खेलो…..
    यु ना किसीके दिलके साथ खेलो…..
    जब ग्रुप में मैसेज ही नह़ी करना है तो
    स्मार्टफोन बेच कर नोकीया 1100 लेलो??..
  • कभी कभी कुछ ना समझना,
    गलत समझने से ज्यादा बेहतर होता है !!
  • ये जिदंगी तमन्नाओं का गुलदस्ता
    ही तो हैं
    कुछ महकती हैं ,कुछ मुरझाती हैं और कुछ
    चुभ जाती हैं
  • ये रिश्ते भी बड़े जिद्दी होते है
    हासिल कहाँ नसीब से होती है …
  • आज की हक़ीक़त ये है की
    हाल भी पूछो तो लोग समझते है
    जरूर कोई काम होगा….
  • मत सोच इतना
    ज़िन्दगी के बारे में~ जिसने ज़िन्दगी दी है~
    उसने भी तो कुछ सोचा होगा॥

Latest whatsapp monsoon images and status 2016

More Hindi Shayri

  • फैसला किया है के आज से हम भी तुम्हे आवाज नही देंगे…
    देखते है कितने तलबदार हो तुम हमारे…
  • जरुरी नही जिसे आप अपना अच्छा दोस्त समझते है वो भी आपको अपना उतना ही अच्छा दोस्त समझे…अच्छे दोस्त की कमी आपको है उसे नही….
  • अगर कभी लगे की आप किसी को अपनी बात समझा नही पा रहे हो तो समझ लो के वो इंसान आपकी बात समझना ही नही चाहता है…
  • जब कोई क़द्र ना करे तो कदम पीछे कर लेने चाहिए..
  • कुछ तो मिलेगी राहत तेरी दोस्ती से
    मुझको,
    जिंदगी की राहों में परेशानियां बहुत हैं…
  • यहाँ तो सब ही जीते है अपने ही लिए
    दूसरों के भावनाओं को समझा नहीं तो जीने का मज़ा क्या है ?
  • जीत सको तो प्यार से जीत लेना मुझे
    प्यार में सब कुछ हार सकता हूँ मैं
    कमजोर नही हूँ,मजबूर भी नही हूँ
    बस प्यार की भाषा जानता हूँ मैं
  • पत्थर की दुनिया जज़्बात नही समझती
    दिल में क्या है वो बात नही समझती
    तन्हा तो चाँद भी सितारो के बीच में है
    पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती
  • दोस्ती ज़िन्दगी में रौशनी कर देती हैं ! हर ख़ुशी को दोगुनी कर देती हैं!! कभी झूम के बरसती हैं बंज़र दिल पे ! कभी अमावस को चांदनी कर देती हैं
  • भाग्य अपना स्वयं नियंत्रित करियेनहीं तो कोई और करने लगेगा- सुविचार
  • कुछ है जो खत्म हो रहा है अंदर से
    मेरे……
    बेज़ुबान पहले भी हुई हूँ पर..
    … बे-अहसास नहीं !
  • सीनेसे लगकर ध्यान से सुन मेरी धड़कन
    जो हर बार तुझसे मिलने का इंतजार करती है
    आँखों में झांक कभी तो मेरी
    कितनी शिद्दतसे तुझे देखने को तरसती है
  • निकाल दिया उसने हमें अपनी ज़िन्दगी से भीगे कागज़ की तरह.. ना लिखने के काबिल छोड़ा , ना जलने के”.
  • जिंदगी जीने की दो रीत है….या तो एक कोने मे रो लेना,
    या दुनिया के हर कोने से लड़ लेना..!!
  • बड़ा आदमी वो हे ,
    जो अपने पास बेठे व्यक्ति को
    छोटा मेहसूस ना होने दे
  • जवानी से अच्छा कहीं एक बचपन हुआ करता था गालिब..
    जिसमें दुश्मनी की जगह सिर्फ एक कट्टी हुआ करती थी ।।
  • किसी ने सच ही कहा था जब किताबे
    सड़क किनारे रखकर बिकेगी और
    जूते काँच के शोरूम में तब समझ जाना के लोगों को ज्ञान की नहीं जूते की जरुरत है
  • ….शायद इस तरह कुछ दिन और ज़िन्दा रह सकूं….मुलाक़ात होती है…अब विदा….
  • बदलते लोग, बदलते रिश्ते और बदलता मौसम!
    चाहे दिखाई ना दे मगर ‘महसूस’ जरूर होते हैं !!
  • जीवन में अगर एक दोस्त मिल जाए तो पर्याप्त है…..
    दो मिल जाए तो काफी है……
    तीन तो बहुत ही मुश्किल है ……
  • तुम अपनी मंज़िल के रास्ते पर चलो
    मैं हर पल तुम्हारे साथ हूँ
    लड़खड़ायेंगे न मेरे कदम
    मैं तुम्हारी ढाल हूँ
  • परेशान तो हर शख्स है
    इस खूबसूरत ज़िन्दगी से
    बस फर्क यंहा है
    कोई हँसकर इसे जी लेता है
    कोई रो रो कर इसे वक़्त से पहले ख़त्म कर लेता है
  • हम लोगों की सबसे बड़ी गलती यही है कि
    हम अपनी खुशियां किसी और इंसान में ढूंढ़ते हैं
    ऐ जिन्दगी तेरा हर फैसला मानना पडता है
    वक्त के सामने कब कोई जवाब होता है …!!
  • ज़िन्दगी के हाथ नहीं होते.. लेकिन कभी कभी वो ऐसा थप्पड़ मारती हैं जो पूरी उम्र याद रहता है
  • “खुश” रहनेका सुन्दर उपाय…उम्मीद “रब” से रखो,
    “सब” से नहीं|
  • तरसते थे जो मिलने को हमसे कभी!
    आज वो क्यों मेरे साए से कतराते हैं!
  • हम भी वही हैं दिल भी वही है!
    न जाने क्यों लोग बदल जाते हैं!
  • हम जिंदगी की भागदौड़ मे इतने लीन हो गए, पता ही नहीं चला गोलगप्पे कब 10 के तीन हो गए…????
  • “गुफ्तगुँ करते रहा कीजिए..
    “यही इंसानी फितरत है..!!
    ??”वरना बंद मकानों में..
    “अक्सर जाले लग जाते हैं..✍
  • जिस दिन हम अपना सब कुछ वक्त पर
    छोड़ देंगे
    उस दिन से हम
    एक बेहतर जिंदगी के साथ खुशी से
    चैन से जी पाएंगे
  • इंसान अपनी जिंदगी में
    ज्यादा दुखी क्यों होता है
    इसलिए के वो
    जरूरत से ज्यादा इच्छाएं रखता है

[ad_2]

Source link

ankit :

This website uses cookies.